OMG ! राजधानी भोपाल में बदला लेने के लिए 35 वर्षीय युवक को जिंदा जलाया, बाहर से ताला लगाकर घर में लगाई आग, कर डाली जघन्य हत्या

राजधानी भोपाल में बदला लेने के लिए 35 वर्षीय युवक को जिंदा जलाया, बाहर से ताला लगाकर घर में लगाई आग, कर डाली जघन्य हत्या

OMG ! राजधानी भोपाल में बदला लेने के लिए 35 वर्षीय युवक को जिंदा जलाया, बाहर से ताला लगाकर घर में लगाई आग, कर डाली जघन्य हत्या

भोपाल। कोलार इलाके में मकान में आग लगने से हुई 35 साल के विनोद की मौत के मामले में चार दिन बाद खुलासा हुआ है। रविवार को पुलिस ने बताया कि युवक की हत्या उसके ही दो दोस्तों ने की थी। दोस्तों ने उसे घर में बंद कर बाहर से आग लगा दी थी। विनोद का भंडारे में दोस्तों से विवाद हुआ था। इसी का बदला लेने के लिए आरोपियों ने युवक की हत्या कर दी।

पुलिस के मुताबिक कोलार इलाके के गरीब नगर में रहने वाला 35 साल का विनोद अहिरवार प्राइवेट नौकरी करता था। एसआई वशंज श्रीवास्तव के अनुसार 27 अक्टूबर की रात करीब 12 बजे विनोद के घर में आग लग गई। उसने चिल्लाना शुरु किया, तो आस-पड़ोस के लोग उसकी मदद के लिए भागे। आग पूरे घर में फैल चुकी थी, जिससे कोई भी अंदर नहीं जा पा रहा था।

सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम भी मौके पहुंच गई। जिसके बाद टीम ने आग पर काबू पाया, लेकिन विनोद की झुलसने से मौत हो चुकी थी। वह घर में अकेला रहता था। घर के दरवाजे पर बाहर से ताला लगा था, लेकिन पुलिस ने यह कहते हत्या की बात से मना कर दिया था कि कुंडी लगाने के लिए जगह ही नहीं थी। ऐसे में ताला लगाए जाने का मतलब नहीं है।

परिजनों की शिकायत पर मामले का खुलासा-

परिजनों ने बताया कि 27 अक्टूबर की शाम विनोद पास ही मंदिर में भंडारा खाना गया था। इसी दौरान उसका उसके दोस्त सूरज नाथ और अक्कू उर्फ आकाश से विवाद हो गया। विनोद ने दोनों की जमकर पिटाई लगाई दी। इससे दोनों नाराज थे। पुलिस की जांच में इसका पता चलने के बाद पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि रात को विनोद के सोने के बाद उन्होंने दरवाजा बाहर से बंद कर ताला लगा दिया और उसके मकान में चारों तरफ से आग लगा दी। इसी कारण न तो कोई अंदर जा सका था और ही विनोद बाहर आ सका था।

विनोद अकेला रहता था-

एसआई श्रीवास्तव ने बताया कि विनोद की शादी नहीं हुई थी। उसकी मां उससे कुछ दूरी पर दूसरे मकान में रहती है, जबकि वह यहां पर अकेला रहता था। वह शराब पीने का आदी था। घर का पूरा सामान जल चुका है। पहले आग शॉर्ट सर्किट से या किसी जलती चीज से लगने की आशंका जताई गई थी। मौके पर एफएसएल टीम को भी बुलाया गया था।