BIG REPORT: कहानी बनाकर रोका, आंखों में मिर्च डाल अपहरण, पहले नीमच का फार्म हाउस, फिर इंदौर आखरी ठिकाना, हुई FIR, तो एक्शन में आई उदयपुर पुलिस, कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर का मास्टर माइंड बेटा अनुराग गिरफ्तार, जवाहर नगर सहित इन कॉलोनियों के युवक भी शामिल, पढ़े 80 लाख की फिरौती से जुड़ी ये बड़ी खबर

कहानी बनाकर रोका, आंखों में मिर्च डाल अपहरण, पहले नीमच का फार्म हाउस, फिर इंदौर आखरी ठिकाना, हुई FIR, तो एक्शन में आई उदयपुर पुलिस, कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर का मास्टर माइंड बेटा अनुराग गिरफ्तार, जवाहर नगर सहित इन कॉलोनियों के युवक भी शामिल, पढ़े 80 लाख की फिरौती से जुड़ी ये बड़ी खबर

BIG REPORT: कहानी बनाकर रोका, आंखों में मिर्च डाल अपहरण, पहले नीमच का फार्म हाउस, फिर इंदौर आखरी ठिकाना, हुई FIR, तो एक्शन में आई उदयपुर पुलिस, कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर का मास्टर माइंड बेटा अनुराग गिरफ्तार, जवाहर नगर सहित इन कॉलोनियों के युवक भी शामिल, पढ़े 80 लाख की फिरौती से जुड़ी ये बड़ी खबर

उदयपुर। रेन्ज IGP हिंगलाज दान ने बताया की दिनांक 30/12/21 को मार्बल व्यवसायी नन्द लाल मालिजा के पुत्र राहुल माखिजा के उसके घर के बाहर से हुए अपहरण काण्ड एवं उसके बाद उसके फोन से ही 80 लाख रुपयों की फिरौती की मांग की जाने पर प्रकरण दर्ज कर अपहृत राहुल मास्विजा एवं अभियुक्तो की सरगर्मी से तलाश शुरू की गई। घटना की गम्भीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक मनोज चौधरी द्वारा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर गोपाल स्वरूप मेवाडा के निर्देशन में वृताधिकारी नगर पश्चिम जितेन्द्र आँवलिया के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया। 

टीम में थानाधिकारी अम्बामाता सुनिल कुमार एवं शहर के थानाधिकारी घण्टाघर श्याम सिंह रत्नु, थानाधिकारी सुखेर मुकेश सोनी, थानाधिकारी सविना रविन्द्र चारण, थानाधिकारी भुपालपुरा भवानी सिंह एवं डीएसटी प्रभारी दलपत सिंह मय टीम तथा साईबर सेल प्रभारी गजराज सिंह हैड कानि को शामिल किया गया। बाद में उक्त टीम में डुंगला थानाधिकारी यशवन्त सिंह सोलंकी को भी शामिल किया गया। 

टीम ने पुरी सुझबुझ के साथ अथक प्रयास करते हुए 4 दिन बाद अपहत राहुल माखीजा को सकुशल इंदौर से मुक्त कराया। साथ ही अपहरण के मास्टर माइंड सहित 5 अभियुक्तो को गिरफ्तार कर अपहरण की वारदात में प्रयुक्त एक अल्टुरस, एक ग्लेन्जा, एक होंडा कार एवं चोरी का होण्डा एक्टिवा स्कुटर भी बरामद किया गया। 

अपहर्ताओ ने पुछताछ पर बताया की राहुल को अपहरण करने की प्लानिंग के तहत पूर्व में गाडी चोरी कर राहुल की गाड़ी से एक्सीडेन्ट कर आंखो में मिर्ची डाल मारपिट कर अपहरण करने की प्लानिंग बनाई थी। जिसके तहत वारदात के एक दिन पहले सहेली नगर से एक होण्डा एक्टीवा स्कुटर चोरी किया था, तथा वारदात के समय ऑफिस जाते समय राहुल माखिजा की गाड़ी के सामने आ एक्सीडेन्ट कर गाड़ी रुकने पर उसके आंखो में मिर्ची डाल मारपीट कर अपहरण कर ले गये। बाद में उसकी गाडी नवरतन के पास नम्बर प्लेट उखाड डम्प कर दी। अभियुक्तगणों द्वारा ग्लेन्जा कार में राहुल को हाथ पांव बांध कर डाल दिया गया। 

जिसके बाद उसके विभिन्न बैंको के डेबिट कार्ड क्रेडीट कार्ड से उससे पासवर्ड पुछकर सहेली नगर एटीएम से 70 हजार रुपये निकलवाये, तथा राहुल माखिजा के फोन से व्हाट्सएप्प कॉल के जरिये उसके पिता नन्दु माखिजा के फोन पर 80 लाख रुपयों की मांग की गई, एवं उन रुपयों के लिये 3 घण्टे का इन्तजार किया। लेकिन पुलिस की हलचल देखकर राहुल को लेकर उदयपुर शहर से भागकर नीमच चले गये। वहां एक फार्म हाउस पर रहे दुसरे दिन राहुल को लेकर इन्दौर चले गये। जहां एयरपोर्ट कॉलोनी स्थित घर में बंधक बना कर रखा। 

मामले में उदयपुर पुलिस द्वारा राहुल को अपहर्ताओं के कब्जे से मुक्त कराया, एवं अपहरणकर्ता अपराधियों को डिटेन किया। पूछताछ में आरोपी अनुराग अहिर ने बताया की उसके विरुद्ध पूर्व में भी नीमच में एक पत्रकार के अपहरण का प्रकरण दर्ज हुआ है। 

इन आरोपियों को किया गिरफ्तार- 

कार्यवाही के दौरान पुलिस ने आरोपी अनुराग पिता राजकुमार अहीर (26) निवासी 42 राजस्व कोलोनी, विपुल अजमेरा पिता सुशील अजमेरा (जैन) (26) निवासी 162, जवाहर नगर, माधव पिता सतीश बंसल अग्रवाल (20) निवासी दाना गली, मोहित उर्फ बिट्टू पिता संतोष यादव (28) निवासी 42, राजस्व कोलोनी, थाना केंट और सन्तोष यादव पुत्र रामराज यादव (50) निवासी बाबु मुरई कोलोनी इन्दौर को गिरफ्तार किया है।