BADI KHABAR: एमपी में कोरोना ने पसारे पैर, स्कूली परीक्षाओं को लेकर बैठक सम्पन्न, लिये जा सकते है अहम फैसले

एमपी में कोरोना ने पसारे पैर, स्कूली परीक्षाओं को लेकर बैठक सम्पन्न, लिये जा सकते है अहम फैसले

BADI KHABAR: एमपी में कोरोना ने पसारे पैर, स्कूली परीक्षाओं को लेकर बैठक सम्पन्न, लिये जा सकते है अहम फैसले

डेस्क:- म.प्र. में बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते विद्यालय शिक्षा विभाग द्वारा अधिकारियों की बैठक बुलाई गई है। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में नौवीं और ग्यारहवीं कक्षा के छात्रों को जनरल प्रमोशन देने पर विचार-विमर्श किया जा सकता है।

माना जा रहा है कि बैठक में कक्षा नौवीं और ग्यारहवीं की ओपन बुक पैटर्न के तहत परीक्षा कराने पर सहमति बनती है तो छात्रों को घर पर रह कर ही परीक्षा देनी होगी। इस पैटर्न के तहत छात्रों को घर पर उत्तर पुस्तिका भेजी जाएगी। जिसमें विद्यार्थियों द्वारा उत्तर पुस्तिका में जवाब लिखकर स्कूल में जमा करवाना होगी। स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों का यह मानना है कि इस परीक्षा प्रणाली से छात्रों को कोरोना संक्रमण से बचाया जा सकता है। 

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर 9वीं और 11वीं की परीक्षाओं का शेड्यूल जारी कर दिया है। जारी डेटशीट के मुताबिक 12 अप्रैल से परीक्षा प्रस्तावित हैं, लेकिन प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विद्यालयों और महाविद्यालयों को बंद कर दिया गया है। राजधानी भोपाल सहित 13 जिलों में रविवार को लॉकडाउन लगा दिया गया है। वहीं सरकार द्वारा महाराष्ट्र के बाद अब छत्तीसगढ़ से लगी सीमाओं को भी सील करने के निर्देश दे दिए गए हैं। ऐसी परिस्थितियों में कक्षा नौवीं और ग्यारहवीं की परीक्षाएं होना कठिन प्रतीत हो रहा है। 

स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के अनुसार दसवीं और बारहवीं की प्री-बोर्ड परीक्षाओं को कुछ समय के लिए स्थगित करने की तैयारियां की जा रही हैं। बता दें राज्य बोर्ड द्वारा कक्षा दसवीं की परीक्षाएं 30 अप्रैल से आयोजित की जाएंगी। वहीं कक्षा बारहवीं की परीक्षाएं 1 मई से आयोजित की जानी है। बोर्ड द्वारा अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर परीक्षा का टाइम टेबल भी जारी कर दिया गया है।