OMG: मादक पदार्थ के बाद लक्सरी कारों में अब इस बेशकीमती चीज की तस्करी, सूचना पर वायडी नगर पुलिस की कार्यवाही, दो आरोपी गिरफ्तार, क्या है नीमच का कनेक्शन, पढ़े खबर

मादक पदार्थ के बाद लक्सरी कारों में अब इस बेशकीमती चीज की तस्करी, सूचना पर वायडी नगर पुलिस की कार्यवाही, दो आरोपी गिरफ्तार, क्या है नीमच का कनेक्शन, पढ़े खबर

OMG: मादक पदार्थ के बाद लक्सरी कारों में अब इस बेशकीमती चीज की तस्करी, सूचना पर वायडी नगर पुलिस की कार्यवाही, दो आरोपी गिरफ्तार, क्या है नीमच का कनेक्शन, पढ़े खबर

मंदसौर। शुक्रवार को वायडी नगर थाना प्रभारी जितेन्द्रसिंह  पाठक के कुशल नेतृत्व में पुलिस टीम ने एक सूचना पर कार्यवाही करते हुए चंदन की तस्करी करते दो कार सवारों को पकडऩे में सफलता हासिल की। 

जानकारी के मुताबिक दिनांक 19.02.2021 को थाना वायडी नगर पर मुखबीर सूचना प्राप्त हुई कि 02 व्यक्ति नीमच तरफ से हुंडई इयॉन कार से अवैध रूप से चंदन की तस्करी कर थाना वायडी नगर क्षेत्रांतर्गत एमआईटी चैराहे से गुजरने वाले है। 

इस सूचना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस टीम एमआईटी चौराहे पर पहुंची और नाकाबंदी की गई। इसी दरमियान कुछ देर पश्चात  ही नीमच तरफ से एक सफेद रंग की हुंडई ईयोन कार क्रमांक एमपी 44 सीए 2435 आती दिखाई दी। जिसे पुलिस टीम ने घेराबंदी कर रोका।

जहां तलाशी के दौरान प्लास्टिक के चार कट्टों में रखा 132 किलो चंदन कीमती 02 लाख रूपये बरामद किया गया। वहीं कार सवार दो बदमाशों आसिफ शेख पिता अनवर शेख उम्र 35 साल निवासी वार्ड नंबर 35 मदारपुरा मंदसौर एवं युनुस शेख पिता नसीरउद्दीन शेख उम्र 42 साल निवासी वार्ड नंबर 35 मदारपुरा मंदसौर को मौके से गिरफ्तार कर थाने ले जाया गया।

बाद में पकड़ाये दोनों बदमाशों के खिलाफ पुलिस ने अपराध क्रमांक 72/21, धारा 379 भादवि एवं भारतीय वन अधिनियम की धारा 42 एवं म.प्र. अभिवहन वनोपज नियम 2000 के नियम 22 के अंतर्गत आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध किया गया। आरोपीगण अवैध चंदन कहां से लेकर किसे देने जा रहे थे इस संबंध में पूछताछ जारी है।

इनकी रही कार्यवाही-
अवैध चंदन की तस्करी करते दोनों कार सवारों को पकडऩे की कमान जहां वायडी नगर थाना प्रभारी निरीक्षक जितेन्द्र पाठक द्वारा संभाली गई। वहीं उनके साथ सउनि. संजय प्रताप सिंह, प्रआर. राजेन्द्र सिंह, आर. संजय सिंह जादौन, गिरीश, उमंग शर्मा, चन्द्रप्रकाश, राकेश, नारायण डाबी, राकेश मईडा का सराहनीय कार्य रहा। वहीं इस कार्य में आर. कमलेश वर्मा एवं आर. मोहनलाल शर्मा द्वारा विषेश भूमिका निभाई गई।