CORONA BREAKING: कोरोना को लेकर राजस्थान सरकार ने की नई गाइडलाइन जारी, नाइट कर्फ्यू का समय बढ़ा, क्या रहेंगे बंद, तो किसे मिली छूट, पढ़े खबर

कोरोना को लेकर राजस्थान सरकार ने की नई गाइडलाइन जारी, नाइट कर्फ्यू का समय बढ़ा, क्या रहेंगे बंद, तो किसे मिली छूट, पढ़े खबर

CORONA BREAKING: कोरोना को लेकर राजस्थान सरकार ने की नई गाइडलाइन जारी, नाइट कर्फ्यू का समय बढ़ा, क्या रहेंगे बंद, तो किसे मिली छूट, पढ़े खबर

डेस्क:- इन दिनों बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने बुधवार को नई गाइड लाइन जारी की। जिसमें अब नाइट कर्फ्यू का समय बढ़ा दिया गया। 
जिसके तहत अब शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगेगा। वहीं नये आदेश में 5 बजे से ही बाजार बंद करने का आदेश जारी किये गये है, ताकि छह बजे तक कर्मचारी अपने घरों में पहुंच सकें।

इसके अलावा निजी आयोजन और शादियों में अब सिर्फ 50 लोग ही शामिल हो सकेंगे, जिसमें बैंड-बाजा वाले अलग होंगे। जिसके लिये पहले उपखंड मजिस्ट्रेट को पहले सूचना देनी होगी। 16 अप्रैल से लागू होने वाला यह आदेश 30 अप्रैल तक चलेगा। नये आदेश में सिनेमा हॉल, कोचिंग समेत तमाम शिक्षण संस्थान और लाइब्रेरी बंद रहेंगे। वहीं कोविड वार रूम को छोडक़र सभी सरकारी दफ्तर 4 बजे बंद हो जाएंगे।

नई गाइडलाइंस के मुताबिक अब रेस्टोरेंट्स और क्लब 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही संचालित हो सकेंगे। सार्वजनिक परिवहन सेवा में भी सिर्फ 50 प्रतिशत यात्री ही सफर कर सकेंगे। बसों में खड़े होकर कोई भी यात्री अब सफर नहीं कर सकेगा। वहीं अंतिम संस्कार में 20 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। सभी सांस्कृति, धार्मिक गतिविधियां और जुलुस की अनुमति नहीं होगी। सिनेमा हॉल और थियेटर स्वीमिंग पूल और जिम भी बंद रहेंगे।

नाइट कर्फ्यू में इन्हें मिली छूट- 

नाइट कर्फ्यू के दौरान वे फैक्ट्रियां जिनमें लगातार उत्पादन हो रहा है और जिनके यहां नाइट शिफ्ट भी चलती है, उन्हें नाइट कर्फ्यू से छूट रहेगी। इसके अलावा आईटी कंपनियों और फार्मेसी, इमरजेंसी सर्विस को छूट दी गई। विवाह समारोह को भी नाइट कर्फ्यू से छूट रहेगी। मेडिकल सुविधाओं से जुड़े सभी ऑफिस खुले रहेंगे। बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट से आने-जाने वाले यात्रियों को भी छूट रहेगी। माल परिवहन सेवा से जुड़े लोगों को छूट रहेगी। लेकिन नाइट कर्फ्यू से छूट पाने वाले सभी संस्थानों को गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करना होगा।