OMG ! जिंदगी से बचने के लिए साड़ी पर बांधा पत्थर, फिर कुंए में कूद मौत को लगाया गले, बेटे ने चप्पलों से की अपनी माँ की पहचान

जिंदगी से बचने के लिए साड़ी पर बांधा पत्थर, फिर कूदी कुंए में, मौत को लगाया गले, बेटे ने चप्पलों से की अपनी माँ की पहचान

OMG ! जिंदगी से बचने के लिए साड़ी पर बांधा पत्थर, फिर कुंए में कूद मौत को लगाया गले, बेटे ने चप्पलों से की अपनी माँ की पहचान

रतलाम। जिले के बरखेड़ा थाना क्षेत्र में एक महिला द्वारा आत्महत्या करने का चैकाने वाला मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार बरखेड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम केलूखेड़ा निवासी महिला सुगनाबाई पति बद्रीलाल सूर्यवंशी गुरूवार को अपने घर से बिना बताये चली गई थी। जब वह शाम तक घर नहीं लौटी तो परिजनों ने मामले की शिकायत बरखेड़ा थाने में की। 

शिकायत के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। इस बीच शनिवार सुबह पूरे घटनाक्रम में एक नया मोड़ आ गया। महिला की लाश गांव के समीप मुख्य मार्ग पर कुएं में तैरती दिखाई दी। जिसकी सूचना ग्रामीणों द्वारा पुलिस को दी गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा बनाकर शव को पीएम के लिए अस्पताल पहुंचाया। 

साड़ी पर बंधा 10 किलों का पत्थर- 

पुलिस से मिली जानकारी मे सामने आया है कि मृतक महिला की साड़ी पर 10 किलो का पत्थर बंधा हुआ था। जिससे प्रथम दृष्टता पर महिला द्वारा आत्महत्या करना बताया जा रहा है। हालांकि यह हत्या है या आत्महत्या, इसकी पुष्टि पुलिस जांच के दौरान ही कर पाएगी।

बेटे ने की पहचान- 

जानकारी में सामने आया है कि जब कुएं मे लाश तैरती दिखाई देने की सूचना पुलिस को मिली थी तो मौके पर पुष्टि के लिए परिजन भी पहुंचे। इस दौरान मृतक महिला के बेटे ने कुएं के पास रखी महिला की चप्पल पहचानी। जिससे महिला गुमशुदा महिला की पुष्टि मृतिका के रूप में हुई है।