APRADH: पिकअप वाहन से कराया गौवंश मुक्त, एक तस्कर गिरफ्तार, तो लम्बे समय से लापता नाबालिग को भी किया दस्तयाब, अपरणकर्ता को पकडऩे के प्रयास जारी, पिपलियामंडी पुलिस के हाथ लगी दोहरी सफलता

पिकअप वाहन से कराया गौवंश मुक्त, एक तस्कर गिरफ्तार, तो लम्बे समय से लापता नाबालिग को भी किया दस्तयाब, अपरणकर्ता को पकडऩे के प्रयास जारी, पिपलियामंडी पुलिस के हाथ लगी दोहरी सफलता

APRADH: पिकअप वाहन से कराया गौवंश मुक्त, एक तस्कर गिरफ्तार, तो लम्बे समय से लापता नाबालिग को भी किया दस्तयाब, अपरणकर्ता को पकडऩे के प्रयास जारी, पिपलियामंडी पुलिस के हाथ लगी दोहरी सफलता

मंदसौर। पिपलियामंडी पुलिस को दोहरी कार्यवाही में सफलता हासिल की। जिसके तहत एक कार्यवाही में जहां पिकअप वाहन में क्रुरता पूर्वक वध हेतु ले जाये जा रहे 7 गौवंश को मुक्त कराते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया। वहीं एक अन्य कार्यवाही में एक गुमशुदा नाबालिग को दस्तयाब किया गया।

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने पहली कार्यवाही करते हुए मुखबीर सूचना पर नीमच की ओर से आ रहे एक पिकअप वाहन क्रमांक आरजे-01-जीए-1992 को घेराबंदी कर रोका। जहां तलाशी के दौरान 7 गौवंश क्रुरता पूर्वक भरे मिले। जिन्हें वध हेतु महाराष्ट्र ले जाया जा रहा था।

पुलिस ने गौवंश को मुक्त कराते हुए पिकअप में सवार एक आरोपी लियाकत उर्फ अब्बु पिता मुबारिक पिप्पी जाति मुल्तानी मसुलमान उम्र 24 साल निवासी बोतलगंज को गिरफ्तार किया गया।

वहीं पिकअप चालक निसार पिता हनीफ न्यारा निवासी बोतलगंज भागने में सफल हो गया। जिसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ म.प्र. कृषक पशु परिरक्षण अधिनियम, म.प्र. गौवंश वध प्रतिषेध अधिनियम एवं पशु कु्ररता अधिनियम की विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज कर आगे की जांच शुरू कर दी। 


पार्ट-2
पिपलियामंडी पुलिस टीम द्वारा लगातार अथक प्रयासों के फलस्वरूप वर्ष 2019 से लापता नाबालिग अपहर्ता को निम्बाहेड़ा राजस्थान से दस्तयाब किया गया। वर्ष 2019 में फरियादी माता-पिता की रिपोर्ट पर थाना पिपलियामंडी पर गुम ईन्सान क्रमाक 36/19 व अपराध क्रमांक 335/2019 धारा 363 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। प्रकरण में फरार आरोपी रमेश पिता गोपाल कुमावत निवासी कुमावत मोहल्ला निम्बाहेड़ा जिला चित्तौडग़ढ़ राजस्थान की तलाश जारी है।


उक्त दोनों कार्यवाही पिपलियामंडी थाना प्रभारी निरीक्षक शिवकुमार यादव के नेतृत्व में उनि. जया भारद्वाज, सउनि. बी.एल. नागर, प्रआ. बाबुलाल डामोर, आर. अनिल शर्मा, मंगल सिंह शक्तावत, गजेन्द्र सैन, योगेश साहू, म.आर. दीपा यादव, म.आर. निलेश शक्तावत, सायबर सेल मंदसौर आर. आशीष के द्वारा की गई।