BIG NEWS: अवैध रेत खनन पर दलौदा पुलिस की बड़ी कार्यवाही, ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त, दो आरोपी गिरफ्तार, पढ़े खबर

अवैध रेत खनन पर दलौदा पुलिस की बड़ी कार्यवाही, ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त, दो आरोपी गिरफ्तार, पढ़े खबर

BIG NEWS: अवैध रेत खनन पर दलौदा पुलिस की बड़ी कार्यवाही, ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त, दो आरोपी गिरफ्तार, पढ़े खबर

मंदसौर। जिले में अवैध रेत खनन माफियाओं के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान में पुलिस अधीक्षक सुनिल पाण्डे द्वारा दिये गये निर्देशो के तारतम्य में डॉक्टर अमित वर्मा अति. पुलिस अधीक्षक एवं सौरभ कुमार एसडीओपी मंदसौर के मार्गदर्शन में पुलिस थाना दलौदा द्वारा थाना क्षैत्रांतर्गत हो रहे अवैध रेत खनन व परिवहन में 02 माफियाओं के कब्जे से 2 ट्रेक्टर ट्राली मय रेत के जप्त किया गया।

जानकारी के अनुसार दिनाक 02.01.2022  को सउनि ओ.पी राठौर मय हमराह प्र.आर ओपी चोहान, प्रआर शैलेन्द्र सिह हाडा, आरक्षक नवनीत उपाध्याय के थाने से रवाना होकर कस्बा दलोदा का भ्रमण करते कृषि उपज मण्डी के सामने पहुचा। वहां एक ट्रेक्टर बिना नम्बर का मय ट्राली के आता हुआ दिखा। ट्रैक्टर के चालक का नाम पता पुछते उसने अपना नाम सुरेश शर्मा पिता हीरालाल शर्मा (26) नि. ग्राम बानी खेडी का होना बताया। जिसे चेक करने पर रेती भरी होना पाई गई।

चालक से रेती की रायल्टी सम्बन्ध मे पुछते रायल्टी नही होना बताया। दौराने कार्यवाही के एक ओर ट्रेक्टर जिसका नंबर एमपी.14.एसी.9276 का मय ट्राली के आता हुआ दिखा। ट्रेक्टर के चालक का नाम पता पुछते उसने अपना नाम गोपाल शर्मा पिता लक्ष्मीनारायण शर्मा (40) नि. ग्राम बानी खेडी का होना बताया। बाद में ट्रेक्टर-ट्राली को चेक करते रेती भरी  होना पाई गई। चालक से रेती की रायल्टी सम्बन्ध मे पुछते रायल्टी नही होना बताया। 

दोनो ट्रेक्टर चालको का यह कृत्य धारा 379, 414 भादवि एंव खान खनिज अधिनियम 1957 की धारा 4/21 एंव 18 (1) म.प्र. खनन परिवहन तथा भंण्डारण का अधिनियम 2006 व मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 130/177 (1), 146/196 का पाया गया। आरोपीयो के कब्जे से दोनो ट्रेक्टर-ट्राली मय रेत को जप्त किया जाकर आरोपीयो के विरुद्ध थाना दलौदा में अपराध क्रमांक क्रमशः 06/2022 व अपराध क्रमांक 07/2022 पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी दलौदा उनि संजीव सिंह परिहार, सउनि ओ पी राठौर, प्रआर ओमप्रकाश चौहान, शैलेंद्र सिंह हाडा और आरक्षक नवनित उपाध्याय का सराहनीय योगदान रहा।