CRIME NEWS: वाट्सएप ग्रुप से बच्ची की डीपी चुराकर भेजी पिता को, फिर गैंगस्टर बनकर मांगी फिरौती,पिपलियामंडी पुलिस मीलों दूर से उठा लाई चंद घंटों में

वाट्सएप ग्रुप से बच्ची की डीपी चुराकर भेजी पिता को, फिर गैंगस्टर बनकर मांगी फिरौती,पिपलियामंडी पुलिस मीलों दूर से उठा लाई चंद घंटों में

CRIME NEWS: वाट्सएप ग्रुप से बच्ची की डीपी चुराकर भेजी पिता को, फिर गैंगस्टर बनकर मांगी फिरौती,पिपलियामंडी पुलिस मीलों दूर से उठा लाई चंद घंटों में

पिपलियामंडी। बीते कुछ दिनों से सर्राफा व्यवसाई की बेटी का फोटो वाट्सअप पर सेंड कर अपने आप को बड़ा गैंगस्टर बताकर फिरौती मांगने वाले एक बदमाश को पिपलियामंडी पुलिस ने 48 घंटे के भीतर ही अपनी गिरफ्त में लेने मेें बड़ी सफलता हासिल की है।

जानकारी के मुताबिक ग्राम पिपलियामंडी निवासी सरार्फा व्यापारी नितेश सोनी को बीते कुछ दिनों से एक अज्ञात व्यक्ति के द्वारा उनकी ही पुत्री का फोटो को व्हाट्स एप पर सेंड किया जा रहा था। इतना ही नहीं उक्त व्यक्ति द्वारा अपने आप को राजस्थान का कुख्यात डॉन बताकर धमकाने वाला एक पिक्चर विडियों भी भेजा गया। जहां इसमें वह जान से मारने की धमकी देने के साथ ही 1 लाख रु. की फिरौती की मांग की जा रही थी।

लगातार इस तरह के फोन आने के बाद पीडि़त सर्राफा व्यवसाईमंदसौर जिला पुलिस कप्तान सिद्धार्थ चौधरी के समक्ष उपस्थित होकर पूरी कहानी से अवगत कराया। जिसे जिला पुलिस कप्तान ने गंभीरता से लेते हुए  तत्काल  अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मंदसौर डॉ. अमित वर्मा व मल्हारगढ़ एसडीओपी टी.सी. पंवार के निर्देशन एवं पिपलियामंडी थाना प्रभारी शिव कुमार यादव के नेतृत्व में आरोपी की धर पकड़ को लेकर एक टीम गठित की। 

तकनिकी विश्लेषण एवं अथक प्रयासों के बाद जयपुर से पकड़ाया बदमाश-
उक्त मामले में लगी पुलिस टीम के द्वारा लगातार तकनिकी विश्लेषण के आधार पर प्रयास करते हुए फरियादी को अज्ञात व्यक्ति मोबाइल धारक के सम्बन्ध में जानकारी एकत्र करना प्रारंभ की गई। लेकिन आरोपी चतुर चालाक होने से की वजह से वह लगातार अपनी पहचान छुपाते हुए अपनी लोकेशन परिवर्तित कर पुलिस को गुमराह करने का प्रयास कर रहा।

इस बीच पुलिस भी कहां हार मानने वाली थी। जैसे ही उक्त बदमाश की लोकेशन जयपुर में होना पाई गई। वैसे ही पुलिस का विशेष दल तुरंत वहां के लिए रवाना हो गया। जहां बाद में अथक प्रयासों के बाद आखीरकार पुलिस के हाथ उक्त बदमाश तक पहुंच गये और उसे अपनी गिरफ्त में ले लिया।

बाद में पुलिस पकड़ाये आरोपी हेमंत पिता रामधन जाट उम्र 19 वर्ष निवासी कोठपुटली जिला जयपुर राजस्थान अपने साथ पिपलियामंडी लेकर पहुंची। वहीं पुलिस ने आरोपी के कब्जे से घटना में प्रयुक्त मोबाईल फोन व सीम कार्ड बरामद कर लिया। अब पुलिस इससे इस मामले में आगे की पूछताछ कर रही है।

इनकी रही कार्यवाही-
मोबाईल फोन के जरीये धमकी देकर फिरौती मांगने वाले बदमाश को पकडऩे की कमान जहां पिपलियामंडी थाना प्रभारी शिव कुमार यादव द्वारा संभाली गई। वहीं उनके साथ उनि. अशोक कुमार शुक्ला थाना पिपलियामंडी, उनि. मोहन मालवीय प्रभारी सायबर सेल, आर. सुनील टेलर, अनिल टेलर, आशीष बैरागी, मनीष बघेल के द्वारा भी मुख्य भूमिका निभाई गई।