OMG ! चमन गुर्जर पर फायरिंग मामला, किसे मिली थी धमकी, और किसके हाथ थे खाली, समझौते के पहले ही क्यों चली केलूखेड़ा गांव में गोलियां, घटनाक्रम को लेकर क्या बोले... छोटीसादड़ी थाने के सीआई, पढ़े ये ख़ास खबर

चमन गुर्जर पर फायरिंग मामला, किसे मिली थी धमकी, और किसके हाथ थे खाली, समझौते के पहले ही क्यों चली केलूखेड़ा गांव में गोलियां, घटनाक्रम को लेकर क्या बोले... छोटीसादड़ी थाने के सीआई, पढ़े ये ख़ास खबर

OMG ! चमन गुर्जर पर फायरिंग मामला, किसे मिली थी धमकी, और किसके हाथ थे खाली, समझौते के पहले ही क्यों चली केलूखेड़ा गांव में गोलियां, घटनाक्रम को लेकर क्या बोले... छोटीसादड़ी थाने के सीआई, पढ़े ये ख़ास खबर

नीमच। रविवार की रात करीब 11 बजे राजस्थान के गांव जलोदिया केलूखेड़ा के समीप बदमाशों ने नीमच निवासी चमन गुर्जर और उनके अन्य साथियों पर जानलेवा हमला कर दिया। इस घटना में चमन गुर्जर को गोली लगी है। साथ ही अन्य दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए है। घटना के बाद घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां से एक युवक की हालत को गंभीर देखते हुए उसे उदयपुर रैफर कर दिया गया। 

जानकारी के अनुसार शहर की अमर काॅलोनी निवासी चमन गुर्जर और उनके अन्य साथी राजस्थान के ग्राम जलोदिया केलूखेड़ा में एक सामाजिक कार्यक्रम में गए थे। कार्यक्रम में शामिल होने के बाद सभी लोग छोटी सादड़ी पहुंचे। जहां सभी लोगों ने कालीका होटल में खाना खाया और नीमच के लिए रवाना हुए। 

उसी दौरान ग्राम जलोदिया केलूखेड़ा स्थित कांटे के समीप करीब 15 से 20 बदमाशों ने उन पर जानलेवा हमला कर दिया। इस घटना में बदमाशों ने लाठियां और पत्थर बरसाने के साथ फायरिंग भी की, बदमाशों द्वारा की गई फायरिंग में एक गोली चमन पिता सोहन गुर्जर निवासी अमर काॅलोनी के हाथ में लगी। जिसके बाद बदमाशों द्वारा सभी लोगों पर लगातार हमला किया। जिसमे राहुल पिता रघुनाथ नाथ उम्र 20 और विपीन नामक युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। हमला करने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। 

घटना के बाद सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां से चमन गुर्जर को शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, वहीं एक अन्य गंभीर घायल युवक राहुल को प्राथमिक उपचार के बाद उदयपुर रैफर किया गया है। 

इस पुरे घटनाक्रम को लेकर जब हिन्दी खबरवाला ने छोटी सादड़ी सीआई रविंद्रप्रताप सिंह से चर्चा की, तो उन्होंने बताया कि मामले को लेकर दोनों पक्षों की और से एफआईआर दर्ज कर ली गई है, अब मामले की जांच की जा रही है। 

चलती कार पर फायरिंग- 

छोटी सादड़ी निवासी कमल जाट ने जानकारी देते हुए बताया कि छोटी सादड़ी से लौटते समय बदमाशों ने पहली और दूसरी कार पर फायरिंग की, तो गोली नहीं चली, लेकिन जैसे ही तीसरी कार उनके सामने आई, तो बदमाशों ने फिर फायरिंग की, और गोली चमन गुर्जर के सीधे हाथ पर जाकर लगी। 

विशाल जाट को मिल रही थी धमकियां- 

कमल जाट ने यह भी बताया कि विशाल जाट को पूर्व में विकास सैन ने फोन पर धमकियां दी थी। जिसे लेकर उन्होंने बघाना थाने और छोटी सादड़ी थाने में एक दिन पहले ही शिकायती आवेदन भी दिया। 

इन आरोपियों के नाम आये सामने- 

कमल जाट ने मीडिया से चर्चा के दौरान बताया कि जिन लोगों ने चमन गुर्जर और उनके अन्य साथियों तथा कार पर हमला किया है। उनमें विकास सैन मुकेश सैन और उसका भांजा, राजू शर्मा, अर्जुन कुमावत और आशीष सहित करीब 15 से 20 लोगों ने एक साथ मिलकर लाठियां, पत्थर और पिस्टल से हमला किया। 

विवाद की बात आई सामने- 

जानकारी में एक बात यह भी सामने आई है कि चमन गुर्जर और उनके अन्य साथी रविवार सुबह जिस कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। उसी कार्यक्रम के दौरान कुछ विवाद हुआ था। जिसे लेकर ही बदमाशों ने योजना बनाकर सभी पर हमला किया है। 

राहुल की हालत गंभीर, किया उदयपुर रैफर- 

घटना में राहुल पिता रघुनाथ नाथ के सिर पर बदमाशों द्वारा लाठियों से लगातार हमला किया गया था। इस घटना में उनके सिर पर गहरी चोट आई, राहुल को जिला अस्पताल में उचित उपचार के दौरान उदयपुर रैफर कर दिया गया है। 

मारपीट करने के बाद भी किया पीछा- 

जानकारी में यह भी सामने आया है कि बदमाशों द्वारा चमन गुर्जर और उनके साथियों पर हमला करने के बाद आई- 20 कार से उनके पीछा किया गया। पीछा करते हुए बदमाश ग्राम राबडिया तक आए, जिसके बाद वह वापस लौट गए। 

इनका कहना- 

मामले में दोनों पक्षों में आपस में विवाद हुआ है। रविवार की देर रात करीब 12 बजे दोनों पक्षों की और से मुकदमा दर्ज किया गया है। आज घटनाक्रम से संबंधी जगहों पर मौका मुआयना किया गया है। साथ ही कुछ लोगों को बुलाया है। पूरे घटनाक्रम में कही ना कही संदेह है, उन पर गंभीरता बरती जा रही है। जहां तक फायरिंग की बात है, तो उस संबंध में डाॅक्टर से भी बात हुई है। मेडिकल और कपड़े मिल जाए, मामले में और भी पड़ताल जारी है। पुलिस टीम जांच कर रही है।

- रविंद्रप्रताप सिंह, सीआई, थाना छोटी सादड़ी