KHULASA: ट्रीपल मर्डर मामला,लूट के साथ कर डाली थी तीन हत्याएं,अब रतलाम पुलिस ने किया खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार,मास्टर माइंड की अभी भी तलाश

ट्रीपल मर्डर मामला,लूट के साथ कर डाली थी तीन हत्याएं,अब रतलाम पुलिस ने किया खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार,मास्टर माइंड की अभी भी तलाश

KHULASA: ट्रीपल मर्डर मामला,लूट के साथ कर डाली थी तीन हत्याएं,अब रतलाम पुलिस ने किया खुलासा,चार आरोपी गिरफ्तार,मास्टर माइंड की अभी भी तलाश

रतलाम। पुलिस ने शहर में हुए ट्रीपल मर्डर मामलें का खुलासा आज कर दिया है। इस मामलें में पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। 

जानकारी के अनुसार पुलिस कप्तान गौरव तिवारी ने बुधवार को स्थानीय कंट्रोल रूम में प्रेसवार्ता का आयोजन किया। इस दौरान उन्होंने रतलाम शहर में हुए ट्रीपल मर्डर के संबंध में जानकारी दी। 

प्रेसवार्ता के दौरान उन्होंने बताया कि यह तीनों हत्याएं लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए की गई थी। इस मामलें में पुलिस ने कुल 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही हत्या का मुख्य मास्टर माइंड अब भी पुलिस गिरफ्त से दूर है। 

मास्टर माइंड फरार, तो चार गिरफ्तार- 

प्रेसवार्ता के दौरान सामने आया है कि पुलिस ने इस मामलें में दो आरोपियों को दाहोद से और 1 आरोपी को रतलाम से गिरफ्तार किया हैं, जबकि हत्या का मास्टर माइंड दिलीप अब भी फरार है। 

यह आरोपी शामिल- 

पुलिस ने हत्या के मामले में जिन्हें आरोपी बनाया है, उनमें अनुराग उर्फ बॉबी पिता प्रवीणसिंह परमार, निवासी रतलाम, गोलू उर्फ गौरव पिता राजेश बिलवाल 22, निवासी रतलाम, लाला पिता मनु भाबोर जाति भील 20 निवासी दाहोद गुजरात, दिलीप पिता भावसिंह देवल जाति पटिलया निवासी ग्राम खरेड़ी डुंगरी थाना दाहोद गुजरात हाल मुकाम रतलाम का नाम शामिल है।  

छोटी दीपावली का दिन ही क्यों चुना- 

आरोपियों द्वारा हत्या की वारदात को अंजाम देने के लिए छोटी दीपावली का दिन चुना गया था। क्योंकि दीपावली के दिन पटाखों के शोर के बीच गोलियां की गुंज नहीं सुनाई देती। इसिलिए आरोपियों ने हत्या की वारदात को अंजाम देने का दिन छोटी दीपावली का चुना था। 


खुले मैदान में बैठ बनाई हत्या की योजना- 

जानकारी में सामने आया है कि आरोपियों में पहले परिवार के सदस्यों की रैकी की। जिसके बाद आरोपियों देर रात खुले मैदान में बैठ हत्या को अंजाम देने की योजना तैयार की। इस घटना को अंजाम देने के लिए 4 लोगों को शामिल किया गया था। जिसमे उनका मुख्य मास्टर माइंड दिलीप देवल है, जो कि दाहोद का निवासी है। साथ ही अन्य उसी के रिश्तेदार शामिल थे। 

यह पूरा मामला- 

गत दिनों 25 नवंबर को रतलाम के औद्योगिक थाना क्षेत्र स्थित राजीव नगर निवासी गोविंद पिता बगदीराम सोलंकी, शारदाबाई और उनकी बेटी दिव्या की अज्ञात बदमाशों ने घर में घुस गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिसके बाद घटना की जानकारी पर पुलिस उप महानिदेशक रतलाम रेंज एवं एसपी गौरव तिवारी सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा, और जांच शुरू की गई। 

जांच के दौरान प्रथम दृष्टता में मामला गोली मारकर हत्या करने का सामने आया। जिस पर पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ धारा 302 में प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू की थी। 

गायब स्कूटी मिली लावारिस अवस्था में- 

आपकों बता दें कि बदमाश घटना को अंजाम देने के बाद मकान के किरायेदार की स्कूटी लेकर मौके से फरार हो गए थे। जिस पर पुलिस ने सीसीटीवी की मदद से स्कूटी की भी तलाश की, तो वह लावारिस अवस्था में देवनारायण कॉलोनी में मिली। इस दौरान पुलिस ने 200 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों को खंगाला तो सामने आया कि दो युवकों द्वारा गायब की गई थी।