WOW! कई अपराधों में लिप्त था फरार आरोपी, गिरफ्तारी के बाद खाकी ने ही जीत लिया खाकी द्वारा घोषित ईनाम, जाने क्या है मामला

कई अपराधों में लिप्त था फरार आरोपी, गिरफ्तारी के बाद खाकी ने ही जीत लिया खाकी द्वारा घोषित ईनाम, जाने क्या है मामला

WOW! कई अपराधों में लिप्त था फरार आरोपी, गिरफ्तारी के बाद खाकी ने ही जीत लिया खाकी द्वारा घोषित ईनाम, जाने क्या है मामला

मंदसौर। जिले में फरार बदमाशों की धर पकड़ को लेकर चलाये जा रहे अभियान के तहत वायडीनगर थाना प्रभारी जितेन्द्रसिंह पाठक के कुशल नेतृत्व में पुलिस टीम ने लम्बे अर्से से फरार चल रहे एक ईनामी बदमाश को हथियार सहित पकडऩे में बड़ी सफलता हासिल की।


जानकारी के मुताबिक आदतन अपराधी साबीर उर्फ गेणा पिता लतीफ मुल्ला 40 साल निवासी मुल्तानपुरा मंदसौर जो कि विभिन्न प्रकरणों में पिछले कई दिनों से फरार चल रहा था। जिसकी पुलिस द्वारा तलाश की जा रही थी। वहीं दो जिले की पुलिस द्वारा इस पर कुल 10 हजार रूपयों का ईनाम भी घोषित कर रखा था। इसी बीच एक सूचना पर वायडी नगर थाना पुलिस टीम ने इसे तलवार के साथ रंगेहाथ गिरफ्तार किया। जहां इसके खिलाफ भादवि की धारा 25 आर्म्स एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया गया।

मंदसौर तथा बड़वानी जिले की पुलिस ने कर रखा था ईनाम घोषित-
तलवार के साथ पुलिस के हाथ लगे बदमाश साबीर के खिलाफ वैसे तो मंदसौर तथा बड़वानी जिले के कई थानों में पशु कु्ररता, आर्म्स एक्ट सहित अन्य प्रकरण दर्ज है। वहीं मंदसौर तथा बड़वानी पुलिस द्वारा इस पांच-पांच हजार के दो ईनाम भी घोषित कर रखे थे। वहीं अब पकड़ाये इस आरोपी को लेकर राजस्थान पुलिस को भी सूचना दी गई। बताया जा रहा है कि उक्त बदमाश पिछले काफी समय से गौवंश तस्करी में लिप्त रहा है।

इनकी रही कार्यवाही-
फरार ईनामी बदमाश को पकडऩे की कमान जहां वायडी नगर थाना प्रभारी निरीक्षक जितेन्द्रसिंह  पाठक द्वारा संभाली गई। वहीं उनके साथ सउनि. संजय प्रताप सिंह, प्रआर. राजेन्द्र सिंह, आर. गिरीश, उमंग शर्मा, रमीज राजा, चंद्रप्रकाश, राकेश, नारायण डाबी, राकेश मईड़ा, बालाराम का सराहनीय कार्य रहा। वहीं पुलिस जवान मोहनलाल शर्मा द्वारा विशेष भूमिका निभाई गई।