CRIME NEWS: राहगीरों की आंखों में मिर्ची डाल देते थे लूट को अंजाम,रतलाम पुलिस के बिछाये जाल में फंसे 4 बदमाश,लूट की राशि भी बरामद

राहगीरों की आंखों में मिर्ची डाल देते थे लूट को अंजाम,रतलाम पुलिस के बिछाये जाल में फंसे 4 बदमाश,लूट की राशि भी बरामद

CRIME NEWS: राहगीरों की आंखों में मिर्ची डाल देते थे लूट को अंजाम,रतलाम पुलिस के बिछाये जाल में फंसे 4 बदमाश,लूट की राशि भी बरामद

रतलाम। जितेंद्र जैन पिता मोहनलाल जैन जो कृषि मंडी मे राजेश बम्बोरिया के लिए मुनीम का कार्य करते हैं अपने मित्र कीर्ति शर्मा के साथ HDFC बैंक से किसानो की भुगतान करने हेतु नगद राशि लेकर बैंक से मंडी की ओर जा रहे थे, रास्ते मे प्रताप नगर ब्रिज पर फरियादी पर 2 अज्ञात व्यक्तिओ द्वारा आंखो में मिर्ची  डालकर लूट करने का प्रयास किया परंतु सफल नहीं हुए। 

इसी प्रकार से दिनांक 07/11/2020 को कृषि उपज मंडी रतलाम मे महादेव ट्रेडर्स मे मुनीम अशोक पितानन्द किशोर जायसवाल निवासी रतनेश्वररोड रतलाम दोपहर करीब 2 बजे IDFC बैंक रतलामसे लाख रूपाय निकाल कर किसानो की वितरण करने हेतुले जा रहे थे तभी रास्ते मे प्रताप नगर ब्रिज पर स्कूटी पर सवार 2 अज्ञात व्यक्तियों  द्वारा फरियादी की आंखो मे मिर्ची डालकर फरियादी के पास के 9 लाख रूपय लूट लिए गए। जिस पर से थाना स्टेशन रोड पर अपराध क्रमांक 588/20 धारा 392 IPC का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया। 

टीम का गठन दोनों घटित घटनाओ मे अत्यधिक समानता व समान मोडेस ओपरेंडी को देखते हुए यह कार्य किसी गिरोह द्वारा किए जाने की आशंका थी व भविष्य मे भी इस प्रकार की घटना घटित होना की संभावना थी। 

अत : भविष्य में इस प्रकार की घटनाओ को रोकने हेतु शहर की सीमा की नाके बंदी व सघन वाहन चेकिंग जैसे कदम उठाए गए । उक्त सनसनी खेज घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा अतिरिक्त  पुलिस अधीक्षक डॉ. इंद्रजीत बाकलवार के मार्गदर्शन व नगर पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान के निर्देशन मे साइबर सेल रतलाम व थाना स्टेशन रोड की टीम का गठन किया ।

कार्यवाही गठित टीम द्वारा मुखबिर तंत्र व CCTV व साइबर की तकनीक की सहायता से अज्ञात आरोपियों की तलाश हेतु कठोर प्रयास किए गए व क्षेत्र मे कई स्थानो पर टीम बनाकर संयुक्त दबिश दी गई। जो कार्यवाही मे उक्त दोनों घटनाओ की अंजाम देने वाले आरोपी सूरज राणावत पिता देवी सिंह राणावत उग्र 23 वर्ष निवासी ओसवाल नगर रतलाम , व मोंटी गहलोत पिता संजय गहलोत निवासी टाटा नगर रतलाम द्वारा घटित किया जाना ज्ञात हुआ। आरोपी की पतारसी कर आरोपी सूरज को दबिश देकर गिरफ्तार किया गया 

जिसने लूट की घटना के संबंध मे पूछताछ करते दोनों के द्वारा घटना को घटित करना स्वीकार किया गया व लूट की कुल 12 हजार की राशि सूरज सिंह राणावत से जप्त की गई। 

आरोपी से घटना के बारे में पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा बताया गया की कीर्ति शर्मा नाम के व्यक्ति के साथ मिलकर लूट करने की योजना बनाई थी व कीर्ति शर्मा कृषि मंडी मे पहले कार्य करता था व मंडी के व्यापारी व मुनीम की जानकारी रखता था व रूपए के लेन देन करने वालो की सूचना दिया करता था, जो सूचना के उपरांत आरोपी सूरज ने अपने मित्र मोंटी गहलोत के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। पटना मे औरतश्यो की जानकारी मिलने व आरोपीओ का पता चलने पर टीम बनाकर दबिश दी गई व आरोपी कीर्ति शर्मा को गिरफ्तार किया गया 

जिसने अपने मित्र दीपक पिता राधेश्याम शर्मा निवासी लक्ष्मी नारायण नगरके साथ मिलकर लूट की राशि को गोदाम मे छुपा कर रखा था जो आरोपी कीर्ति शर्मा से लूट की 1 लाख 75 हज़ार रूपय कीराशिव आरोपी दीपक शर्मा से 6 लाख 50 हज़ार की राशि को जप्त किया गया। अन्य स्थान पर दबिश देकर आरोपी मोंटी गहलोत को गिरफ्तार किया गया। जिससे लूट की 13 हज़ार रूपय की राशि जप्त की गई। इस प्रकार प्रकरण मे अभी तक कुल 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है जिनसे लूट की कुल 8 लाख 50 हजररुकी राशि को जप्त किया जा चुका है।

यह सामग्री जब्त- 

पुलिस ने मौके से कुल 8 लाख 50 हजार रूपए और घटना में प्रयुक्त स्कूटी जप्त की है।

इन आरोपियों को किया गिरफ्तार- 

कार्रवाही के दौरान पुलिस ने आरोपी सूरज पिता देवी सिंह राणावत (23) निवासी ओसवाल नगर रतलाम, कीर्ति शर्मा पिता प्रकाश चन्द्र (22) निवासी धीरज शाह नगर, दीपक पिता राधेश्याम शर्मा (23) निवासी लक्ष्मी नारायण जगर और मोंटी गहलोत पिता संजय गहलोत (23) निवासी टाटानगर रतलाम को गिरफ्तार किया है। 

इनकी सरहनीयता- 

उक्त कार्रवाही में थाना प्रभारी स्टेशन रोड किशोर पाटन वाला, उनि. नागेश यादव, उनि. अनुराग यादव, उनि. मुकेश ससतिया, आर. विपुल भावसर, हिम्मत सिंह, मनमोहन शर्मा और यशवंत जाट की सराहनीय भूमिका रही। जिन्हे उचित पुरस्कार से पुरस्कृत किया जावेगा ।