BIG BREAKING: भागवत कथा के दौरान महिला के गले से उड़ाया मंगलसूत्र, महिला बदमाशों का गिरोह पकड़ाया, पहले जमकर हुई धुनाई, फिर किया देवास पुलिस के हवाले, नीमच जिले से भी जुड़े है तार...!, पढ़े राजू नागदा दास्सा की यह खास खबर

भागवत कथा के दौरान महिला के गले से उड़ाया मंगलसूत्र, महिला बदमाशों का गिरोह पकड़ाया, पहले जमकर हुई धुनाई, फिर किया देवास पुलिस के हवाले, नीमच जिले से भी जुड़े है तार...!, पढ़े राजू नागदा दास्सा की यह खास खबर

BIG BREAKING: भागवत कथा के दौरान महिला के गले से उड़ाया मंगलसूत्र, महिला बदमाशों का गिरोह पकड़ाया, पहले जमकर हुई धुनाई, फिर किया देवास पुलिस के हवाले, नीमच जिले से भी जुड़े है तार...!, पढ़े राजू नागदा दास्सा की यह खास खबर

नीमच। बुधवार को देवास के रानी बाग इलाके में भागवत कथा के दौरान एक महिला के गले से मंगलसूत्र उड़ाने का मामला सामने आया। जहां इस गिरोह की सदस्यों द्वारा जैसे ही इस वारदात को अंजाम दिया। इसी बीच लूट की शिकार ने महिला को इसकी भनक लग गई।

जिसके बाद वहीं हुआ जो होना चाहिए था। बाद में वहां उपस्थित सभी महिलाओं ने इस गिरोह में शामिल 10 से ज्यादा महिला आरोपियों का भांडाफोड़ करते हुए उनकी जमकर धुनाई कर दी।

जिसके बाद सूचना पर वहां सिविल लाइन थाना पुलिस पहुंची और इस गैंग में शामिल सभी महिलाओं को पकडक़र थाने ले गई। जहां पूछताछ में इन्होंने अपना जुर्म भी स्वीकार कर लिया। इसे लेकर कल पुलिस खुलासा कर सकती है।

जानकारी के अनुसार आने वाले नगरीय निकाय चुनाओं को लेकर देवास के रानी बाग इलाके में भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा था। जहां इस आयोजन में क्षेत्र के कई महिला और पुरूष द्वारा भाग लिया गया था।

इसी का फायदा उठाकर चैन चोर गिरोह की दस से ज्यादा महिलाएं पहले इस भीड़ का हिस्सा बनी। वहीं बाद में मौका देख इस गैंग की एक महिला बदमाश ने दूसरी महिला के गले में पहना मंगलसूत्र गायब कर दिया। लेकिन पीडि़त महिला की सर्तकता की वजह से बदमाश महिला के मंसूबों पर पानी फिर गया। बाद में चोर महिला की पिटाई शुरू हुई तो गैंग की साथी अन्य महिलाएं भागने लगी। लेकिन बाद में उन्हें भी पकडक़र पुलिस के हवाले कर दिया गया।

बदमाश महिला गैंग के नीमच जिले से जुड़े है तार-
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस के हाथ लगी इस गैंग की सभी महिलाएं नीमच जिले की होकर एक समुदाय से जुड़ी बताई जा रही है। वहीं इस वारदात को लेकर उन्होंने अपना जुर्म भी स्वीकार कर लिया। फिलहाल पुलिस इनके आगे की पूछताछ कर रही है।

धार्मिक आयोजनों में शामिल होकर देती थी वारदातों को अंजाम-
जानकारी के अनुसार पता चला है कि चैन चोरी व लूट को अंजाम देने वाली इस गिरोह की सभी सदस्याएं धार्मिक आयोजनों में शामिल होकर ही वहां मौका देख महिलाओं के गले में पहने मंगलसूत्र या सोने की चेन पर बखूबी हाथ साफ कर देती थी।

वहीं इस काम के लिये वह कटर व रेजर का सहारा लेती थी। बताया जा रहा है कि भागवत कथा के आयोजन के दौरान करीबन 7 महिलाओं के मंगलसूत्र गायब हो चुके है। जिसे लेकर पुलिस द्वारा कड़ी पूछताछ की जा रही है।