BIG NEWS: चैहरे पर मुस्कान लेकर पहुंची घर, फिर जुनून के साथ लौट रही थी ड्यूटी पर, बीच रास्ते में महिला आरक्षक आरती हुई दुर्घटना का शिकार, बिलख-बिलख कर रौया परिवार

चैहरे पर मुस्कान लेकर पहुंची घर, फिर जुनून के साथ लौट रही थी ड्यूटी पर, बीच रास्ते में महिला आरक्षक आरती हुई दुर्घटना का शिकार, बिलख-बिलख कर रौया परिवार

BIG NEWS:  चैहरे पर मुस्कान लेकर पहुंची घर, फिर जुनून के साथ लौट रही थी ड्यूटी पर, बीच रास्ते में महिला आरक्षक आरती हुई दुर्घटना का शिकार, बिलख-बिलख कर रौया परिवार

मंदसौर। छोटे से गांव की बेटी मुस्कान के साथ छुट्टी पर अपने घर और परिवार के सदस्यों से मिलने गई थी। जिसके बाद वह जुनून लेकर वापस ड्यूटी पर लौट रही थी। लेकिन बीच रास्ते में ही वह दुर्घटना का शिकार हो गई। घटना में उसकी दर्दनाक मौत हो गई। जिसके बाद उसका परिवार बिलख-बिलख कर रौ रहा है। 

कंट्रोल रूम रतलाम से मिली जानकारी के अनुसार 1193 महिला आरक्षक आरती व्यास पिता भोपाली जाट (24) निवासी ग्राम दोरवाड़ा, जिला मंदसौंर लंबे समय से रतलाम पुलिस लाइन में पदस्थ थी। 

महिला आरक्षक आरती व्यास गत दिनों अवकाश लेकर अपने गांव दोरवाड़ा गई थी। जहां से आज वह स्कूटी से 
ड्यूटी के लिए रतलाम रवाना हुई। इस दौरान डोडर और रिचा थाने के बीच महिला आरक्षक आरती को अज्ञात वाहन ने जोरदार टक्कर मार दी। इस घटना में आरक्षक आरती की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। 

जिसके बाद जानकारी पर डोडर चौकी प्रभारी मालवीय टीम सहित मौके पर पहुंचे और एंबुलेंस की मदद से शव को अस्पताल पहुंचाया गया। 

वर्तमान में ट्रेनिंग पीरियड पर- 

जानकारी में सामने आया है कि मृतक आरती व्यास नवागत महिला आरक्षकों में से एक थी। उनका वर्तमान में ट्रेनिंग पीरियड था और वह पुलिस लाईन में पदस्थ रहकर अपनी ट्रेनिंग पूरी कर रही थी। 

टीचरशिप में जाने की इच्छा- 

आपको बता दें कि मृतक आरती व्यास शुरूआत से ही टीचरशिप में जाने की इच्छा रखती थी। इसके लिए उन्होंने बीच मे गेप भी दिया। साथ ही उनकी सभी सहेलिया टीचर बन गई थी और यह भी उसी तैयारी मे थी। 

मौत के बाद बिलख बिलख कर रोया परिवार- 

इस घटना के बाद आरती की मौत की सुचना जैसे ही उसके परिवार को लगी तो परिवार के सभी सदस्य  बिलख बिलख कर रोने लगे । आरती थी तो एक महिला, लेकिन वह किसी बेटे से काम नहीं थी। 

पुलिस महकमे में सन्नाटा- 

महिला आरक्षक आरती की मौत की सुचना जैसे ही रतलाम जिले के पुलिस महकमे को लगी तो सन्नाटा पसर गया । साथ ही शोक की लहर छा गई