BIG NEWS : तीन सगे भाई पहले आए कोरोना की चपेट में,फिर हुई एक के बाद एक की मौत,नीमच में चिंता का विषय कोरोना से मौत का बढ़ता ग्राफ

तीन सगे भाई पहले आए कोरोना की चपेट में,फिर हुई एक के बाद एक की मौत,नीमच में चिंता का विषय कोरोना से मौत का बढ़ता ग्राफ

BIG NEWS : तीन सगे भाई पहले आए कोरोना की चपेट में,फिर हुई एक के बाद एक की मौत,नीमच में चिंता का विषय कोरोना से मौत का बढ़ता ग्राफ

 

नीमच। एक और लॉक डाउन में मिली छूट के बाद जहां जिले में कोरोना मरीजों के आंकड़े में दिनों दिन इजाफा होता जा रहा है। जिसे लेकर जिले में हर रोज एक दर्जन से ज़्यादा कोरोना मरीज सामने आ रहे है।वहीं दूसरी और कोरोना से मरने वालों का ग्राफ भी तेजी से बढ़ने लगा है। 


कोरोना पॉजिटिव मरीजों में अब आमजन के साथ ही स्वास्थ्य, पुलिस विभाग के अलावा कई सरकारी कर्मचारी जो कोरोनाकाल में अपनी सेवाएं दे रहे है। वह भी अब इसकी चपेट में आने लगे है। जिसके बाद यह चिंता और भी बढ़ जाती है।
दूसरी और हम अगर कोरोना से होने वाली मौतों की बात करे तो सरकारी आंकड़े के अनुसार अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 19 बताई गई है। जिनमें से 2 मौते जिले के बाहर की बताई गई है। लेकिन वास्तविक धरातल पर देखा जाए तो इन दिनों मौतों का ग्राफ कई तेजी से बढ़ा है।

तीन सगे भाइयों की जिंदगी लील गया कोरोना-
वैसे देखा जाए तो पिछले एक दो माह में कोरोना से मरने वालों की संख्या में कई गुना इजाफा हुआ है। इस कोरोना की वजह से जिले के सिंगोली तहसील क्षेत्र के ग्राम कांकरिया तलाई निवासी तीन सगे भाइयों को अपनी जान गवाना पड़ी। सूत्रों की अगर माने तो इन भाइयों में 70 वर्षीय बुजुर्ग की विगत 23/8/2020 को चित्तौड़गढ़ के सांवरिया अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हुई है। वहीं दूसरे भाई 65 वर्षीय बुजुर्ग ने विगत 26/8/2020 को उदयपुर में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं तीसरे भाई 60 वर्षीय बुजुर्ग की इंदौर में इलाज के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा है कि इन तीनों ही भाइयों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी। जिसके बाद इन्हें इलाज के लिए बाहर ले जाया गया था।

आमजन की बढ़ी चिंता-
कोरोना के लगातार बढ़ते मरीजों एवं इसकी वजह से होने वाली मौतों को लेकर अब आमजन की चिंता भी बढ़ने लगी है। एक लंबे लॉक डाउन के बाद जहां सरकार ने आमजन की परेशानियों को देखते हुए इसमें छूट दी गई। जिसके बाद कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा होने लगा। जिसे लेकर अब आमजन को और ज़्यादा सचेत होने की आवश्यकता है। इन दिनों देखने मे आ रहा है कि लॉक डाउन में मिली छूट के बाद कई लोग बेपरवाह होने लगे है,और प्रशासन  द्वारा जारी गाइड लाइन का पूरी ईमानदारी से पालन नहीं कर रहे। जिसके परिणामस्वरूप यह नतीजे देखने को मिल रहे है। वहीं इसके विपरीत अब कई व्यापारिक संस्थाएं इसे लेकर अभी भी जागरूक बनी हुई है। जिसे लेकर रविवार को खत्म किये गए लॉक डाउन के बावजूद अपनी स्वेच्छा से अपने-अपने संस्थान बन्द रखने की घोषणा भी कर चुके है।