BREAKING: जिले के किसानों के लिए आई एक अच्छी खबर,मंत्री सखलेचा की पहल पर नलकूल खनन पर लगा प्रतिबंध हटा,जिले की प्रतिनिधी मंडल ने रखी थी मांग

जिले के किसानों के लिए आई एक अच्छी खबर,मंत्री सखलेचा की पहल पर नलकूल खनन पर लगा प्रतिबंध हटा,जिले की प्रतिनिधी मंडल ने रखी थी मांग

BREAKING: जिले के किसानों के लिए आई एक अच्छी खबर,मंत्री सखलेचा की पहल पर नलकूल खनन पर लगा प्रतिबंध हटा,जिले की प्रतिनिधी मंडल ने रखी थी मांग

नीमच। मध्य प्रदेश शासन के कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश  सकलेचा से भोपाल स्थित निवास पर जावद विधानसभा एवं नीमच जिले में नलकूप खनन के लगे प्रतिबंध से किसानों को होने वाली समस्याओं को लेकर प्रात: भारतीय जनता पार्टी के पूर्व मंडल अध्यक्ष अशोक सोनी के नेतृत्व में जिला महामंत्री भाजपा वीरेंद्र पाटीदार, ओमप्रकाश मूंदड़ा पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष रतनगढ़ के द्वारा संयुक्त रूप से नलकूप खनन के ऊपर लगाए गए प्रतिबंध में छूट देने पर बात की गई ।

जिस पर मंत्री सकलेचा के निर्देश  पर नीमच जिले में नलकूप खनन से प्रतिबंध हटा लिया गया। ट्यूबवेल खनन के प्रतिबंध हटाया जाने के कारण जावद विधानसभा क्षेत्र के साथ-साथ नीमच जिले के संपूर्ण किसानों में हर्ष व्याप्त है। जिले के सभी किसानों ने इसके लिए  कैबिनेट मंत्री सकलेचा का आभार व्यक्त किया है।

गौरतलब है कि वर्तमान में बड़े क्षेत्रफल में बोई जाने वाली अफीम की फसल के साथ-साथ लहसुन और गेहूं की फसल में पानी की समस्या के चलते किसानों में चिंता व्याप्त थी।

जिला कलेक्टर जितेन्द्रसिंह राजे द्वारा जारी किये गये नए आदेश के तहत  नलकूप खनन पर लगाया गया प्रतिबंध आगामी आदेश तक शिथिल किया गया है। 
संशोधित आदेशानुसार शासकीय पेयजल स्त्रोतो से 150 मीटर की परिधि में निजी नलकूप पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे।

आवश्यकतानुसार निजी पेयजल स्त्रोत के अधिग्रहण का अधिकार समस्त संबंधित अनुविभागीय अधिकारी(राजस्व) को होंगे। 150 मि.मी. व्यास एवं 180 मी.गहराई से अधिक गहरे निजी नलकूप खनन पर प्रतिबंध रहेगा। खनित नलकूप के पुर्नभरण हेतु रिचार्जिंग संरचना का निर्माण किया जाना अनिवार्य होगा। उक्त आदेश तत्काल प्रभाव से लागू रहेगा।