BIG NEWS: पुलिस कप्तान मनोज कुमार रॉय ने ली अपराध समीक्षा बैठक, एनडीपीएस एक्ट के अपराधों में पूर्णतः पारदर्शिता रखने के दिए निर्देश

पुलिस कप्तान मनोज कुमार रॉय ने ली अपराध समीक्षा बैठक, एनडीपीएस एक्ट के अपराधों में पूर्णतः पारदर्शिता रखने के दिए निर्देश

BIG NEWS:  पुलिस कप्तान मनोज कुमार रॉय ने ली अपराध समीक्षा बैठक, एनडीपीएस एक्ट के अपराधों में पूर्णतः पारदर्शिता रखने के दिए निर्देश

1 पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार राय द्वारा दिनांक 20.11.2020 को प्रातः 11ः00 से सायः 5ः00 बजे तक पुलिस कन्ट्रोल रूम नीमच पर जिलें के समस्त राजपत्रित अधिकारियों, थाना प्रभारियों एवं चैकी प्रभारियों की ली समीक्षा बैठक।

2 समीक्षा बैठक के प्रारंभ में जिला पुलिस बल द्वारा करवाचौथ से लेकर दिपोत्सव के दौरान मूस्तैदी से अपनी डयूटी कर कानून व्यवस्था बनाये रखने पर एस.पी. मनोज कुमार राय द्वारा सभी पुलिस अधिकारियों को बधाई दी गई। 

3 विगत् दिनों मनासा कस्बे में पुलिस बल द्वारा तत्काल कार्यवाही कर साम्प्रदायिक माहौल खराब होने से बचाने हेतु संबंधित पुलिस अधिकारियों को बधाई दी जाकर ऐसे प्रकरणों में तत्काल कार्यवाही करने संबंधी निर्देश दिये गए। 

4 एनडीपीएस एक्ट के प्रकरणों में थाना प्रभारी पूर्णतः पारदर्शिता बरते एवं एनडीपीएस एक्ट से संबंधित प्रत्येक कार्यवाही की सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अनिवार्य रूप से अवगत कराना सुनिश्चित करें। 

5 एनडीपीएस एक्ट के प्रकरणों में किसी भी प्रकार की लापरवाही के लिये संबंधित थाना प्रभारी पूर्णतः जिम्मेदार होंगे।

6 पुलिस थानों के लंबित अपराधों, लंबित चालान, लंबित मर्ग एवं लंबित माल के प्रकरणों की समीक्षा कर थाना प्रभारियो ंको शीघ्र निराकरण के दिए निर्देश।

7 थाना प्रभारी अपने अपने थाना क्षेत्रों में गुण्ड़ो को चिन्हित कर उनके विरूद्व कार्यवाही सुनिश्चित करें। 

8 मानव जीवन को प्रभावित करने वाले नकली घी, नकली दुध, मिलावटी खाद्य पदार्थ, नकली दवाईयाॅ बनाने/बैचनें वालो के विरूद्व कार्यवाही सुनिश्चित करें।

9 सूदखोरी से लोगो को बचाने एवं लोगो को जागरूकर करने हेतु क्षेत्रों को चिन्हित कर लोगो को जागरूक किया जावें तथा सूदखोरो के विरूद्व प्रभावी कार्यवाही की जावें।

10 फर्जी चिटफंड कंपनियों के विरूद्व आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जावें।

11 थाना क्षेत्रों में किसी गंभी अपराध के घटित होने पर संबंधित थाना प्रभारी एवं संबंधित राजपत्रित अधिकारी पुलिस आवश्यक रूप से मौका मुआयना करें।

12 गौवंश तस्करी एवं परिवहन में संलिप्त व्यक्तियों को चिन्हित कर उनके विरूद्व कार्यवाही सुनिश्चित करें।

13 सीएम हेल्पलाईन की शिकायतोें का समय सीमा में निराकरण सुनिश्चित करें।

14 सड़क दुर्घटनाओं को रोकने हेतु विगत् 03 वर्षो में हुई सुड़क दुर्घटनाओं के स्थानों को चिन्हित कर साईन बोर्ड लगवाने संबंधी कार्यवाही संबंधित विभाग के साथ मिलकर पूर्ण की जावें।

15 थाना प्रभारी महिला संबंधी अपराधों में संवेदनशीलता बरती जाकर अपराधों का समय सीमा में निराकरण करना सुनिश्चित करें।

16 थाना क्षेत्रों में होने वाली किसी भी घटना की जानकारी पुलिस कन्ट्रोल रूम के माध्यम से वरिष्ठ अधिकारियों को आवश्यक रूप से दी जावें।

17 थाना प्रभारीगण थाना क्षेत्रों में जुआं, सटट्ा एवं अवैध शराब विक्रय पर पूर्णतः अंकुश लगावें। 

18 थाना क्षेत्रों से होकर गुजरने वाले रेत के अवैध डम्फरों पर कार्यवाही करें।

19 थाना प्रभारी एवं चैकी प्रभारी थाना प्रभारी स्वंय रात्रि में थाना क्षेत्रों में लगने वाली गश्त को प्रभावी रूप से करवाना सुनिश्चित करें।
 

समीक्षा बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुन्दर सिंह कनेष, नगर पुलिस अधीक्षक नीमच राकेश मोहन शुक्ल, अअपु मनासा संजीव मूले, अअपु जावद रविन्द्र बोयट, स्टेनो टू एसपी भानुप्रताप राठौर, रीडर टू एसपी कैलाश चैहान, प्रभारी यातायात उनि रामसिंह राठौर सहित जिले के समस्त थाना प्रभारी, चैकी प्रभारी एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय से सायबर सेल, रीडर-2, रेडियों, जिला विशेष शाखा, शिकायत शाखा, डीसीबी, डीसीआरबी, सीसीटीएनएस के शाखा प्रभारी उपस्थित रहें।