OMG ! बुजुर्ग के थैले में स्टील का डिब्बा, फिर खुल गया राज, काले सोने की खदान तक पहुंची पुलिस, लाखों रूपए भी जब्त

बुजुर्ग के थैले में स्टील का डिब्बा, फिर खुल गया राज, काले सोने की खदान तक पहुंची पुलिस, लाखों रूपए भी जब्त

OMG ! बुजुर्ग के थैले में स्टील का डिब्बा, फिर खुल गया राज, काले सोने की खदान तक पहुंची पुलिस, लाखों रूपए भी  जब्त

चित्तौड़गढ़। जिला पुलिस कप्तान दीपक भार्गव के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सरिता सिंह के निर्देशन में चलाए जा रहे अभियान के तहत अवैध मादक पदार्थो के खिलाफ धड़पकड़ अभियान चलाया जा रहा है। 

इसी क्रम में राशमी थाना प्रभारी रमेश कविया के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। जिसके बाद सोमवार की देर रात गौराजी चैराहे पर नाकाबंदी की गई। नाकाबंदी खारखंदा गांव की और से एक व्यक्ति हाथ में थेला लेकर पैदल पैदल आता हुआ दिखाई दिया जिसे रोक उसके हाथ में मौजूद थैले की तलाशी ली गई। 

इस दौरान पुलिस ने देखा कि एक डिब्बे में कुल 1 किलों 38 ग्राम अवैध मादक पदार्थ अफिम पाई गई। जब पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह मादक पदार्थ जान मोहम्मद को देने जा रहा है। जिसके बाद पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार किया। 


साथ ही पुलिस ने आरोपी द्वारा बताई गई जगह पर पहुंच मकान की तलाशी ली गई। इस दौरान मकान में भी एक स्टील के डिब्बे में कुल 10 किलो 500 ग्राम अफिम और मौके से कुल 13 लाख 14 हजार रूपए नगदी भी जब्त की गई। अब पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में प्रकरण दर्ज कर मामलें की जांच शुरू की है। 


इन आरोपियों को किया गिरफ्तार- 

कार्रवाई के दौरान पुलिस ने वाजिबद्दीन पिता अल्लानुर जाति मंसुरी (62) निवासी रूद थाना राशमी, थाना गंगरार को गिरफ्तार किया है। 

यह नामजद-  

पुलिस ने मामले में जान मोहम्मद पिता वाजिबद्दीन जाति मंसुरी निवासी रूद थाना राशमी जिला, चित्तौडगढ को नामजद आरोपी बनाया है । 

इनकी सरहनीयता- 

थानाधिकारी रमेश कविया पु.नि. मय जाप्ता राम लाल सउनि, नानू लाल, रामचन्द्र, मुकेश कुमार, रामस्वरूप, पारस, गिरधारी और मदन लाल की सरहानीय भूमिका रही ।