APRADH: निम्बाहेड़ा पुलिस को मिली सुचना, तो रोका ट्रक, पहले तलाशी में संतुष्टि नहीं, तो फिर खंगाला कैबिन, चालक की सीट के नीचे दबे बैग ने खोला राज, 10 पिस्टल और मैगजीन सहित ये जब्त, पढ़ेंगे ये बड़ी खबर

निम्बाहेड़ा पुलिस को मिली सुचना, तो रोका ट्रक, पहले तलाशी में संतुष्टि नहीं, तो फिर खंगाला कैबिन, चालक की सीट के नीचे दबे बैग ने खोला राज, 10 पिस्टल और मैगजीन सहित ये जब्त, पढ़ेंगे ये बड़ी खबर

चित्तौडग़ढ़। जिला पुलिस कप्तान राजेन्द्र प्रसाद गोयल के द्वारा अवैध्श हथियारों की धर पकड़ को लेकर चलाये जा रहे अभियान के तहत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हिम्मतसिंह देवल व वृताधिकारी सुभाष चंद्र चौधरी वृत निम्बाहेड़ा के निर्देशन तथा फूलचंद टेलर पुलिस निरीक्षक थानाधिकारी पुलिस थाना सदर निम्बाहेड़ा के कुशल नेतृत्व में पुलिस टीम ने अपनी कार्यवाही के दौरान प्याज से भरे एक ट्रक से अवैध हथियारों का जखीरा बरामद करने में बड़ी सफलता हासिल। वहीं ट्रक सवार तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया।

जानकारी के मुताबिक दिनांक 28.7.2021 को पुलिस टीम ने एक सूचना पर वण्डर चौराहे पर नाकाबंदी की। इस दौरान नीमच की तरफ सेे एक ट्रक नम्बर पीबी/02/सीआर/9897 आता दिखाई दिया। जिसे पुलिस टीम ने रोकने का ईशारा किया, लेकिन चालक अपने वाहन को और तेजगति भगा ले गया।

बाद में पुलिस ने बेरियर पर मजबूत नाकेबंदी कर उक्त ट्रक को रूकवाया। जहां तलाशी के दौरान ट्रक में चालक के पास वाली सीट के नीचे एक प्लास्टिक का थैला पड़ा मिला। जिसको खोल चैक करने पर कुल 10 अवैध देशी पिस्टल 20 मैगजीन व 05 जिन्दा कारतूस मिले। जिन्हें पुलिस द्वारा जप्त किया गया।

तीन आरोपी चढ़े हत्थे-

इस कार्यवाही के दौरान पुलिस ने ट्रक सवार तीन लोगों को अपनी गिरफ्त में लिया। जहां पूछताछ में इन्होंने अपना नाम नाम हरविन्दर सिंह पिता हरदेवसिंह जाति जट सिख उम्र 23 साल निवासी चीमा थाना वलटोहा जिला तरणतारण (पंजाब), तलविन्दर सिंह पिता जसवन्त सिंह जाति जट सिख उम्र 20 साल निवासी चीमा थाना वलटोहा जिला तरणतारण (पंजाब), एवं परवदीप सिंह भुपिन्दर सिंह जाति जट सिख उम्र 21 साल निवासी दसूवाल थाना वलटोहा जिला तरणतारण (पंजाब) होना बताया। जिस पर इन सभी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर आगे की कार्यवाही शुरू की गई।

बरामद हथियारों पर लगे विदेशी मोनो-

पुलिस द्वारा जब्त हथियार देखने पर अत्याधुनिक लग रहे है। वहीं इन पर मेड इन जापान व यूएस लिखा हुआ है, दो मैनजीन बड़ी जिनमें एक साथ 20 से ज्यादा कारतूस भरे जाकर लगातार फायर किये जा सकते है। पूछताछ पर बताया की परबदीपसिंह पंजाब से कारतूस एमपी में सप्लाई करके बदले में कुछ भुगतान कर उक्त अवैध पिस्टल लेकर आया है जिनको वह पंजाब में अधिक दामों पर सप्लाई करता। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जारी है पूछताछ में और भी कई मामले खुलने की आशंका की जा रही है।

इनकी रही कार्यवाही-

अवैध हथियारों के साथ आरोपियों पकडऩे की कार्यवाही हैड कानि. बाबूलाल, सुन्दरपाल, कानि. प्रमोद कुमार, नरेश कुमार, रणजीत जाखड़ व चालक रामकुमार के द्वारा की गई।